Primary Ka Master

कक्षा में हाजिरी 24 की और मिडडे मील के रजिस्टर में दिखा दिए 52 छात्र-छात्राएं, पढिए पूरी सूचना

कक्षा में हाजिरी 24 की और मिडडे मील के रजिस्टर में दिखा दिए 52 छात्र-छात्राएं, पढिए पूरी सूचना
Written by Ravi Singh

कक्षा में हाजिरी 24 की और मिडडे मील के रजिस्टर में दिखा दिए 52 छात्र-छात्राएं, पढिए पूरी सूचना

संभल: कक्षा class में हाजिरी 24 की और मिडडे मील के रजिस्टर में 52 छात्र-छात्राओं को भोजन देना दिखाया गया। इसके अलावा तीन गैर हाजिर शिक्षामित्रों Shikshamitro के सामने रजिस्टर में कॉलम खाली छोड़ दिया गया। वहीं विद्यालय में दूसरी खामियां भी सामने आईं। इस पर प्रधानाध्यापक समेत पूरे स्टाफ का माह फरवरी का वेतन vetan आहरण रोक दिया गया है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कक्षा में हाजिरी 24 की और मिडडे मील के रजिस्टर में दिखा दिए 52 छात्र-छात्राएं, पढिए पूरी सूचना

मौका था गांव मातीपुर के सरकारी स्कूल में बीएसए BSA की ओर से किए गए निरीक्षण का।शनिवार को संभल-जोया मार्ग स्थित विकासखंड असमोली के गांव मातीपुर के प्राथमिक विद्यालय Vidalaya में 2.13 बजे बीएसए BSA चंद्रशेखर ने निरीक्षण किया। निरीक्षण में सामने आया कि विद्यालय में 3 शिक्षामित्र गैर हाजिर थीं। बावजूद इसके रजिस्टर में उनके नाम के सामने कॉलम में गैर हाजिर दर्ज नहीं की गई। कॉलम खाली थे। वहीं विद्यालय में पंजीकृत 84 छात्र-छात्राओं में से रजिस्टर में 52 को मिडडे मील का भोजन दिया जाना दिखाया गया था।

बावजूद इसके कक्षा में कुल 24 छात्र-छात्रा उपस्थित थे। विद्यालय Vidalaya में मिडडे मील का सेंपल भी नहीं रखा गया था। मल्टीपल हैंडवॉश मानक के मुताबिक नहीं बना हुआ था। दिव्यांग शौचालय में पानी की व्यवस्था सुचारू नहीं थी। फर्श पर गंदगी थी। विद्यालय Vidalaya में साफ-सफाई का अभाव था। विद्युत वायरिंग व रंगाई-पुताई भी ठीक नहीं थी।बीएसए BSA ने बताया कि विद्यालय में मिली खामियों को लेकर प्रधानाध्यापक कामेंद्र सिंह समेत शिक्षामित्र सरिता सागर, नीरू देवी व प्रीति समेत पूरे स्टाफ का माह फरवरी का वेतन रोका गया है।

वहीं पूरे मामले में समिति बनाते हुए रजपुरा के बीईओ BEO एमएल पटेल व डीसी मिडडे मील दीनदयाल शर्मा को जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है।इसके अलावा विद्यालय Vidalaya स्टाफ से कंपोजिट ग्रांट की धनराशि से कराए गए कार्यों व मिडडे मील आदि में खर्च की गई धनराशि के सभी अभिलेख जांच समिति के सामने प्रस्तुत करने को कहा गया है। बीएसए BSA का कहना था कि जिले में प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के दौरे को लेकर सभी विद्यालयों में सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद करने को लेकर दिशा-निर्देश पहले से ही दिए जा चुके हैं।

About the author

Ravi Singh

Leave a Comment

WhatsApp Group Join