Primary Ka Master

हाल ए बेसिक शिक्षा विभाग! 2649 छात्रों पर मात्र 22 अध्यापक

हवा में सुधार, कल से खुलेंगे प्राइमरी स्कूल
Written by Ravi Singh

हाल ए बेसिक शिक्षा विभाग! 2649 छात्रों पर मात्र 22 अध्यापक

नगर क्षेत्र में करीब 17 स्कूल हैं। जहां पर 22 शिक्षकों teachers पर 2649 विद्यार्थियों को पढ़ाने की जिम्मेदारी है। ऐसी स्थिति में बेहतर शिक्षा shiksha मिल पाना मुश्किल प्रतीत होता है। इसके सबंध में एबीएसए Absa की ओर से कई बार आलाधिकारियों को अवगत कराया गया है।खुर्जा नगर क्षेत्र में भी यही हाल है। यहां करीब 17 स्कूल school हैं। जिनमें एक से पांच तक करीब 2649 विद्यार्थी शिक्षा लेने के लिए पहुंचते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

हवा में सुधार, कल से खुलेंगे प्राइमरी स्कूल

लेकिन शिक्षकों teachers की कमी के चलते उन्हें शिक्षा मिलना मुश्किल है। आलम यह हैं कि उक्त स्कूलों में मात्र 22 शिक्षक है। जिनमें 15 शिक्षा मित्र shikshamitra हैं। एबीएसए Absa कार्यालय की ओर से आलाधिकारियों को कई बार अवगत कराया गया है। जिसके बाद भी स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ है। एक शिक्षक Teacher लगभग 100 से अधिक विद्यार्थियों को पढ़ा रहा है। जबकि नियमानुसार 40 विद्यार्थियों पर ही एक शिक्षक की नियुक्ति होनी चाहिए। वहीं नगर के प्राथमिक विद्यालय नम्बर पांच में पिछले चार वर्षों से एक भी शिक्षक Teacher नहीं है। इस विद्यालय Vidyalaya में 133 विद्यार्थी शिक्षा लेने के लिए पहुंचते हैं। शिक्षक Teacher नहीं होने से उन्हें मायूस होकर घर वापस जाना पड़ता है। ऐसे में बेहतर शिक्षा देना संभव नहीं है।

बेहतर शिक्षा के लिए स्कूलों school में शिक्षकों teachers की नियुक्ति होनी चाहिए। स्कूलों school में शिक्षक Teacher के नहीं होने की समस्या से आलाधिकारियों को अवगत कराया जाएगा।

-शाहिद हुसैन, BIO खंड शिक्षा अधिकारी, खुर्जा नगर

About the author

Ravi Singh

Leave a Comment

WhatsApp Group Join