Primary Ka Master Teacher News

बनी रणनीति! 15 नवंबर को लखनऊ में धरना देंगे शिक्षक एवं शिक्षामित्र तथा अनुदेशक, पुरानी पेंशन सहित होंगी यह मांगें

1667967963449
Written by Ravi Singh

बनी रणनीति! 15 नवंबर को लखनऊ में धरना देंगे शिक्षक एवं शिक्षामित्र तथा अनुदेशक, पुरानी पेंशन सहित होंगी यह मांगें

 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

 

पुरानी पेंशन old pension समेत अन्य मांगों के लिए अब शिक्षक संघ shikshak Sangh विशाल धरना प्रदर्शन की रणनीति बना चुका है। जिला सहकारी बैंक के सभागार में अखिल भारतीय प्राथमिक शिक्षक संघ shikshak Sangh के निर्देशन में जिलाध्यक्ष जितेन्द्र दीक्षित ने बैठक की।कई शिक्षक Teacher व कर्मी शामिल हुए। कहा, आगामी 15 November को ईको गार्डन Eco garden में विशाल धरना प्रदर्शन करेंगे।

1667967963449

बताया, पुरानी पेंशन old pension बहाली हेतु 15 November को लखनऊ के इको गार्डन मे विशाल धरना-प्रदर्शन होना है। झांसी के सभी ब्लॉकों से सैकड़ों शिक्षक Teacher प्रतिभाग करेंगे। सरकार पर इस तरह दबाव बनाया जाएगा कि पुरानी पेंशन बहाल हो सके। ज़िला महामंत्री धर्मेंद्र सिंह ने बैठक meeting में बताया कि जिले से सभी शिक्षक teacher बसों से तथा व्यक्तिगत वाहनों से 14 नवंबर को ही लखनऊ Lucknow के लिए रवाना होंगे।

 

प्रांतीय नेतृत्व के साथ अपनी आवाज बुलंद करेंगे। बुंदेलखण्ड प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश महामंत्री देवेश शर्मा ने कहा कि पुरानी पेंशन पर सरकार Government की भेदभाव पूर्ण नीति नहीं चलेगी। हमें नई और तुम्हे पुरानी इसको बदलवाने के लिए ही 15 नवंबर को इको पार्क पहुंचना है और अपनी एकता दिखनी होगी।मांगों में पुरानी पेन्शन समेत शिक्षामित्र, अनुदेशक के नियमतिकरण, सातवें वेतनमान के पूर्ण क्रियान्वयन, नई शिक्षा नीति के शिक्षक विरोधी प्रावधानों को लेकर है। चार सूत्रीय मांगों के लिए कई शिक्षक इकठ्ठे होंगे। शिक्षक संघ shikshak Sangh द्वारा वृहद स्तर पर हस्ताक्षर अभियान चलाने के बाद अब विरोध दर्शाने के लिए सड़क पर उतरने के लिए मजबूर है।

 

इस दौरान मधुपासी, दीपमाला व्यास आनन्द मोहन मिश्रा अकील, ,रघुवीर पिपरइयां, सुभाष यादव, रविंद्र वर्मा, जितेंद्र त्रिपाठी, मोहित मिश्रा, उमेश पाराशर,सजल शर्मा, शशांक, राघवेंद्र यादव , विपिन अखिलेश पटेल,उमाशंकर शर्मा,भारत भूषण के अलावा अन्य भी मौजूद रहे।

About the author

Ravi Singh

Leave a Comment

WhatsApp Group Join