Jobs

Upsssc Lekhpal :- सितंबर तक 12 हजार पदों पर चयन की तैयारी, लेखपाल भर्ती इसी साल कराने की तैयारी

Upsssc Lekhpal
Written by Ravi Singh

 

Upsssc Lekhpal  सितंबर तक 12 हजार पदों पर चयन की तैयारी, लेखपाल भर्ती इसी साल कराने की तैयारी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूपीएसएसएससी) ने सितंबर तक करीब 12 हजार पदों के लिए चयन की तैयारी पूरी कर ली है। यह भर्तियां कई विभागों में काफी समय से लंबित थीं। इसके अलावा आयोग जुलाई के अंतिम सप्ताह में एएनएम के 9212 पदों का परिणाम जारी करेगा। Upsssc एएनएम भर्ती के अभ्यर्थियों के दस्तावेज का सत्यापन चल रहा है। आयोग के अनुसार, 25 सितंबर तक लंबित सभी भर्तियों के परिणाम जारी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Upsssc Lekhpal

करने की तैयारी है। यूपीएसएसएससी Upsssc ने अभी 18 जून को कनिष्ठ सहायक के 535 पदों का परिणाम जारी किया था। इससे पहले आबकारी सिपाही के 405 पदों का परिणाम आया था। अब जुलाई में एएनएम भर्ती का परिणाम जारी होने के बाद कनिष्ठ सहायक 2019 का अंतिम आएगा। इसके अलावा 2018 से 2021 के बीच निकली कुछ अन्य भर्तियों के अभ्यर्थियों के दस्तावेजों का सत्यापन चल रहा है.

लेखपाल भर्ती इसी साल कराने की तैयारी Preparing to conduct lekhpal recruitment this year

आयोग की ओर से राजस्व लेखपाल के 8000 पदों के लिए भर्ती परीक्षा 24 जुलाई को होगी। सूत्रों के मुताबिक इनका चयन भी इसी वर्ष के अंत तक हो जाएगा। सहायक बोरिंग टेक्नीशियन के 486 पदों के लिए 3 जुलाई और सप्लाई निरीक्षक के 76 पदों के लिए 17 जुलाई को परीक्षा होगी।

आयोग ने बढ़ाया लक्ष्य Commission raised the target
आयोग ने सरकार के एक वर्ष का कार्यकाल पूरा होने तक 15 हजार और पांच वर्ष में 60 हजार पदों पर चयन का लक्ष्य रखा है। 25 मार्च 2023 तक 10 नई भर्तियों के विज्ञापन जारी किए जाएंगे। 12 भर्ती परीक्षाएं आयोजित कर उनके परिणाम जारी किए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि शुरुआत में आयोग ने छह महीने में दस हजार भर्ती का लक्ष्य रखा था, जिसे बढ़ाकर 12 हजार किया गया है।

सरकार की ओर से छह महीने में from the government in six months
दस हजार भर्तियां करने का लक्ष्य था। ऐसे में यूपीएसएसएससी की ओर से दस हजार से अधिक भर्तियां पूरी की जाएगी। एएनएम भर्ती का परिणाम जल्द जारी होगा।
★ प्रवीर कुमार,
अध्यक्ष यूपीएसएसएससी (Chairman UPSSSC)

About the author

Ravi Singh

Leave a Comment

WhatsApp Group Join