Primary Ka Master

Primary ka master:- शिक्षामित्रों ने उठाई शिक्षकों की भांति वेतन देने की मांग

Screenshot 20220902 055605
Written by Ravi Singh

Primary ka master:- शिक्षामित्रों ने उठाई शिक्षकों की भांति वेतन देने की मांगScreenshot 20220902 055605

श्रावस्ती : विभिन्न मांगों को लेकर सोमवार को कलेक्ट्रेट में उप्र प्राथमिक शिक्षामित्र संघ ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन प्रशासनिक अधिकारी ओम प्रकाश श्रीवास्तव को सौंपा। इसमें मानदेय को अपर्याप्त बताते हुए शिक्षामित्रों को शिक्षकों की भांति स्थायीकरण व सुविधाएं प्रदान करने की मांग की गई है।संगठन के जिलाध्यक्ष निर्मल कुमार शुक्ल ने कहा कि महंगाई के इस दौर में 10 हजार रुपये मानदेय पर काम कर रहे शिक्षामित्र परिवार का भरण-पोषण नहीं कर पा रहे हैं। मजबूरी में आत्महत्या जैसे कदम उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्नातक बीटीसी उत्तीर्ण शिक्षामित्रों को 62 वर्ष की आयु तक स्थायी करके 40 हजार रुपये वेतनमान पूरे वर्ष दिया जाय। ज्ञापन में श्रावस्ती के शिक्षामित्रों का बकाया मानदेय जारी करने, महिला शिक्षामित्रों को उनके ससुराल के नजदीक विद्यालय में स्थानांतरित करने, पुरुष शिक्षामित्रों की उनके मूल विद्यालय में वापसी, शिक्षकों की भांति मेडिकल अवकाश व बीमा योजना से लाभांवित करने व शिक्षकों की की तरह आकस्मिक अवकाश सुविधा देने की मांग शामिल है। राम अचल सुभाष चंद्र, राकेश राव, संतोष यादव, रमेश पाठक मौजूद रहे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

About the author

Ravi Singh

Leave a Comment

WhatsApp Group Join