Sarkari yojana

सरकार ने ही बताया Ujjwala Yojana का सच, 4.3 करोड़ लोगों ने एक बार भी नहीं भरवाया सिलेंडर

1659323091765
Written by Ravi Singh

सरकार ने ही बताया Ujjwala Yojana का सच, 4.3 करोड़ लोगों ने एक बार भी नहीं भरवाया सिलेंडर

केंद्र सरकार ने बीते दिन संसद में उज्ज्वला योजना के के तहत दिए गए गैस कनेक्शन की रिफिलिंग के आंकड़े बताए.पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस राज्यमंत्री रामेश्वर तेली ने राज्यसभा को एक सवाल के लिखित जवाब में बताया कि उज्ज्वला योजना के 4.13 करोड़ लाभार्थियों ने एक बार भी रसोई गैस सिलेंडर को रिफिल नहीं करवाया है।

सरकार ने तय किए हैं सब्सिडी के नए नियम


• 9 करोड़ से अधिक हैं उज्ज्वला योजना के लाभार्थी
• अगस्त महीने की पहली तारीख को कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमतों में कटौती हुई, लेकिन घरेलू रसोई गैस सिलेंडर (LPG) के दाम जस के तस बने हुए है. सरकार ने सिर्फ प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY) के लभार्थियों के लिए सब्सिडी (LPG Subsidy) बरकरार रखी है. बाकी के LPG उपभोक्ताओं के लिए सब्सिडी को खत्म कर दिया गया है. लेकिन सरकार की तरफ से संसद में पेश किए गए एक आंकड़े से पता चला कि बड़ी संख्या में उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों ने एक बार भी रसोई गैस सिलेंडर रिफिल नहीं करवाया है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

राज्यमंत्री ने बताए आंकड़े

केंद्र सरकार ने बीते दिन संसद में उज्ज्वला योजना के के तहत दिए गए गैस कनेक्शन की रिफिलिंग के आंकड़े बताए. पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस राज्यमंत्री रामेश्वर तेली ने राज्यसभा को एक सवाल के लिखित जवाब में बताया कि उज्ज्वला योजना के 4.13 करोड़ लाभार्थियों ने एक बार भी रसोई गैस सिलेंडर को रिफिल नहीं करवाया है. वहीं, 7.67 करोड़ लाभाथिर्यों ने एक ही बार सिलेंडर भरवाया है. विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने उज्ज्वला योजना के लभार्थियों से जुड़ी जानकारी मांगी थी।

रामेश्वर तेली ने बताया कि वर्ष 2017-18 के बीच 46 लाख उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों ने एक भी सिलेंडर रिफिल नहीं कराया. वहीं, एक बार रिफिल कराने वालों का आंकड़ा 1.19 करोड़ रहा. राज्यमंत्री के अनुसार, 2018-19 के दौरान 1.24 करोड़, 2019-20 के दौरान 1.41 करोड़, 2020-21 के दौरान 10 लाख और 2021-22 के दौरान 92 लाख लाभार्थियों ने एक बार भी सिलेंडर नहीं भरवाया. साथ ही उन्होंने एक बार सिलेंडर रिफिल कराने वालों को भी आंकड़े दिए।

कितनी मिलती थी सब्सिडी

रामेश्वर तेली ने बताया कि साल 2018-19 के दौरान 2.90 करोड़, 2019-20 के दौरान 1.83 करोड़, 2020-21 के दौरान 67 लाख और 2021-22 के दौरान 1.08 करोड़ ज्ज्वला योजना के लाभार्थियों ने केवल एक बार ही सिलेंडर रिफिल कराया. साथ ही उन्होंने बताया कि साल 2021-22 के दौरान कुल 30.53 करोड़ घरेलू गैस उपभोक्ताओं में से 2.11 करोड़ ने एक बार भी गैस सिलेंडर रिफिल नहीं कराया है. वहीं, 2.91 करोड़ ग्राहकों ने एक बार घरेलू गैस सिलेंडर भरवाया है. अप्रैल 2020 तक उज्ज्वला गैस का सिलेंडर भराने पर गरीबों को वापस 162 रुपये की सब्सिडी मिलती थी।

 

Read More

👉  प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि :12वीं क़िस्त खुशखबरी सभी किसानों के लिए 12वीं किस्त इस तारीख को सभी के अकाउंट में आएगा पैसा

👉 OnePlus 10T : 16GB RAM और 150W फास्ट चार्जिंग से लैस OnePlus 10T के स्पेसिफिकेशंस लॉन्च से पहले लीक

About the author

Ravi Singh

Leave a Comment

WhatsApp Group Join