Trending News

petrol diesel price today : – पेट्रोल-डीजल के एक्सपोर्ट और सोने के इम्पोर्ट पर क्यों बढ़ाया टैक्स, जाने

Petrol Diesel Price Today
Written by Ravi Singh

petrol diesel price today : – पेट्रोल-डीजल के एक्सपोर्ट और सोने के इम्पोर्ट पर क्यों बढ़ाया टैक्स, जाने

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेट्रोल, डीजल और एविएशन फ्यूल पर एक्सपोर्ट ड्यूटी बढ़ा दी है जबकि सोने पर इम्पोर्ट ड्यूटी (import duty on gold) में भी भारी इजाफा किया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने इसकी वजह साफ करते हुए आज कहा कि भारत को सस्ती कीमत पर तेल का आयात करने में काफी मुश्किल हो रही है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Petrol Diesel Price Today

इसका कारण यह है कि जियोपॉलिटिकल चिंताओं के कारण दुनियाभर में तेल की कीमत में भारी उछाल आई है। उन्होंने कहा कि यह अभूतपूर्व समय है जब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमत बेलगाम हो गई है। हर 15 दिन में ड्यूटी बढ़ाने की समीक्षा की जाएगी और देखेंगे कि आगे क्या स्थिति बनती है। उन्होंने कहा कि भारत रिफाइनरी का हब बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है लेकिन अब भी विदेशों से आयात करने की जरूरत है।

 

वित्त मंत्रालय ने शुक्रवार को जारी एक नोटिस में पेट्रोल, डीजल और एविएशन फ्यूल पर एक्सपोर्ट ड्यूटी बढ़ा दी है। सरकार ने घरेलू क्रूड प्रॉडक्शन पर प्रति बैरल 23,250 रुपये का सेस (cess) लगा दिया है। सरकार ने डीजल पर एक्सपोर्ट ड्यूटी में 13 रुपये प्रति लीटर और पेट्रोल में 6 रुपये प्रति लीटर का इजाफा किया गया है। एटीएफ के निर्यात पर प्रति लीटर छह रुपये का सेस लगाया गया है। सरकार का कहना है कि देश में फ्यूल की उपलब्धता बढ़ाने के लिए यह फैसला किया गया है।

 

साथ ही चालू खाते के घाटे (current account deficit) को थामने के लिए सोने पर इम्पोर्ट ड्यूटी 10.75 फीसदी से बढ़ाकर 15 फीसदी कर दी गई है। बढ़ी हुई दरें 30 जून से लागू हो गई हैं।

सोने पर क्यों बढ़ाई इम्पोर्ट ड्यूटी Why import duty increased on gold
सीतारमण ने कहा कि सोने पर इम्पोर्ट ड्यूटी बढ़ाने का तत्काल असर यह होगा कि यह महंगा हो जाएगा क्योंकि भारत में सोने का ज्यादा उत्पादन नहीं होता है। इससे पहले सोने पर बेसिक कस्टम्स ड्यूटी 7.5 फीसदी थी जिसे अब बढ़ाकर 12.5 फीसदी कर दिया गया है। इसके साथ ही इस पर 2.5 फीसदी एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट सेस (AIDC) लगता है। इस तरह सोने पर कुल कस्टम ड्यूटी 15 फीसदी पहुंच गई है। सरकार ने कहा कि हम दुनिया में सोने के दूसरे सबसे बड़े उपभोक्ता है और अब मांग में कमी लाना चाहते हैं। भारत अपनी अधिकतर सोने की मांग को आयात के जरिए पूरा करता है। इससे रुपये (Indian Rupee) पर दबाव पड़ता है।

More article

Google Pay Update 2022 – Google Pay ऐप की मदद से हम पैसा ट्रांसफर करना , बिल अदा करना और भी सुविधाएं

About the author

Ravi Singh

Leave a Comment

WhatsApp Group Join