घुटनों तक पानी से होकर विद्यालय पहुंच रहे छात्र व अध्यापक

घुटनों तक पानी से होकर विद्यालय पहुंच रहे छात्र व अध्यापक

अयोध्या। ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित परिषदीय स्कूल भी भारी बारिश से जलभराव की चपेट में आ गए हैं। कई स्कूलों में दो से तीन फुट तक पानी भरा है। इससे छात्र व अध्यापक पानी के बीच से होकर विद्यालय कक्ष तक पहुंच रहे हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नीचे इलाकों में स्थित विद्यालयों में तो रैंप तक पानी भरा है। शिक्षा क्षेत्र तारुन के छह से अधिक परिषदीय विद्यालयों में बारिश का पानी भर जाने के कारण छात्र-छात्राओं को काफी असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है।

Screenshot 20220921 053338

प्राथमिक विद्यालय परमानंदपुर में परिसर व गेट के पास ही काफी पानी इकट्ठा हो गया है। प्रधानाध्यापक शैलेंद्र कुमार वर्मा ने बताया कि गुरुवार को विद्यालय खुलने पर परेशानियों का सामना करना पड़ा।

एनपीआरसी संदीप कुमार ने बताया कि पूर्व माध्यमिक विद्यालय गोठौरा, प्राथमिक विद्यालय गोठौरा, प्राथमिक विद्यालय बैसुपाली, प्राथमिक विद्यालय जजवारा के भी बारिश का पानी के जलभराव होने से काफी असुविधा का सामना करना पड़ा।

प्राथमिक विद्यालय कुबेर का पूरा के सहायक अध्यापक मतिराम ने बताया कि परिसर में पानी बाहर न निकलने के कारण बारिश में जलभराव हो जाता है। कंपोजिट विद्यालय करौदी में बारिश का पानी पूरा परिसर व रैंप तक भरा है।

प्रधानाध्यापिका नीलम वर्मा ने बताया कि आज बरसात न होने की वजह से पानी कुछ घटा है लेकिन परिसर अभी तक भरा हुआ है। इसके लिए कई बार प्रधान से कहा गया कि परिसर गहरा है इसमें मिट्टी डलवा दीजिए लेकिन मिट्टी नहीं डलवाई।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय सहसीपुर के गेट से ही पानी भरा हुआ है। बच्चे पानी के बीच विद्यालय आ रहे है। प्रधानाध्यापिका सुषमा सिंह ने बताया कि गेट के पास काफी पानी इकट्ठा है।

किसी तरह बच्चों के साथ अंदर प्रवेश कर पाई। यही हाल बीकापुर शिक्षा क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय उमरनी पिपरी, कंपोजिट विद्यालय बल्लीपुर समेत कई विद्यालयों का रहा।

Leave a Comment

WhatsApp Group Join